वर्चुअल क्लासरूम

वर्चुअल क्लासरूम योजना

इनफार्मेशन एवं कम्युनिकेशन टेक्नॉलाजी के व्यावहारिक सिद्धांतों को शिक्षण/प्रशिक्षण में लागू करके पॉलीटेक्निक में दिये जा रहे शिक्षण को और अधिक प्रभावी एवं व्यापक बनाने के दृष्टिकोण से राजकीय पॉलीटेक्निक संस्थाओं में वर्चुअल क्लासरूम की स्थापना का आरम्भ प्राविधिक शिक्षा विभाग द्वारा किया गया है। तकनीकी ज्ञान ले रहे छात्र-छात्राओं को पाठ्यक्रमों से सम्बंधित गुणवत्तापरक एवं नवीनतम तकनीक को सुदूर स्थापित राजकीय पॉलीटेक्निक संस्थाओं में सूचना प्रौद्योगिकी का प्रयोग कर सभी छात्रों तक पहुंचाना है। इस उद्देश्य की प्राप्ति हेतु विगत वर्षो में दो इलेक्ट्रानिक मीडिया रिसोर्स सेन्टर/स्टूडियों (ईएमआरसी) की स्थापना (शोध विकास एवं प्रशिक्षण संस्थान कानपुर एवं राजकीय पॉलीटेक्निक गाजियाबाद में) की गयी है।

यह इलेक्ट्रानिक मीडिया रिसोर्स सेन्टर/स्टूडियों (ईएमआरसी) को वर्तमान में प्रदेश के 13 राजकीय पॉलीटेक्निक संस्थाओं यथा-राजकीय पॉलीटेक्निक लखनऊ, फैजाबाद, बरेली, झांसी, उरई, कानपुर. गाजियाबाद, मुरादाबाद, गोरखपुर, राजकीय महिला पॉलीटेक्निक, सहारनपुर, वाराणसी, इलाहाबाद एवं राजकीय चर्म संस्थान, आगरा में स्थापित वर्चुअल क्लासरूम से जोड़ा गया है तथा वर्ष 2017-18 में 19 पॉलीटेक्निक संस्थाओं में वर्चुअल क्लासरूमों की स्थापना की जानी है। शोध विकास एवं प्रशिक्षण संस्थान के इलेक्ट्रानिक रिसोर्स सेन्टर द्वारा तैयार ऑपरेशनल प्लान/कार्यक्रम के अनुसार सजीव ई-व्याख्यान का प्रसारण विभागीय/उच्च शिक्षण संस्थान/उद्योगों के विषय विशेषज्ञों द्वारा ईएमआरसी स्टूडियों में किया जाता है। शैक्षिक सत्र 2015-16 एवं 2016-17 में स्टूडियों द्वारा कुल 193 सजीव ई-व्याख्यान का प्रसारण किया गया।