विभागीय ढाँचा एवं कर्तव्य

विभागीय ढाँचा एवं कर्तव्य

नाम मुख्य कर्तव्य एवं उत्तरदायित्व
प्राविधिक शिक्षा निदेशालय उ0प्र0, कानपुर राजकीय एवं अनुदानित संस्थाओं के प्रशासन, अधिष्ठान, योजना एवं बजट सम्बन्धी कार्य तथा निजी संस्थाओं के मानीटरिंग सम्बन्धी कार्य
क्षेत्रीय संयुक्त निदेशक कार्यालय मेरठ, लखनऊ, वाराणसी, झाँसी वरिष्ठ प्रधानाचार्य संयुक्त निदेशक के रूप में क्षेत्र में कार्यरत हैं। संयुक्त निदेशक अपने क्षेत्र की सभी संस्थाओं के प्रशासन, अधिष्ठान, निरीक्षण, मानीटरिंग आदि कार्य के लिए उत्तरदायी है।
शोध विकास एवं प्रशिक्षण संस्थान, कानपुर निदेशालय के एक भाग के रूप में 1978 में स्थापित हुआ और 1984-85 से स्वतन्त्र रूप से पालीटेक्निक शिक्षकों के प्रशिक्षण, विभिन्न पाठ्यक्रमों के विकास एवं संशोधन तथा लर्निंग रिसोर्स मैटेरियल के विकास हेतु उत्तरदायी है।
प्राविधिक शिक्षा परिषद उ0प्र0, लखनऊ एक्ट 1962 (संशोधित 1974) द्वारा स्थापित पालीटेक्निक के सम्बद्धीकरण, परीक्षा का संचालन एवं मूल्यांकन तथा डिप्लोमा प्रमाण-पत्र प्रदान करना एवं पाठ्यक्रमों के अनुमोदन संबंधी कार्य हेतु उत्तरदायी है।
संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद उ0प्र0, लखनऊ सोसाइटी एक्ट 1860 के अन्तर्गत 1986 में स्थापित। प्राविधिक शिक्षा परिषद द्वारा सम्बद्ध प्रदेश के विभिन्न पालीटेक्निकों हेतु संयुक्त प्रवेश परीक्षा का आयोजन कर अभ्यर्थियों का चयन करने हेतु उत्तरदायी है।